संरक्षा पुरस्कार” से पुरूस्कृत किए गये 25 रेलकर्मी

दानापुर, फरवरी 22, 2021: दानापुर रेल मंडल में जनवरी महीने में मंडल के अलग-अलग हिस्सों में किसी बड़ी रेल दुर्घटनाओं को रोकने एवं सुरक्षा हेतु उत्कृष्ट कार्य में योगदान देने वाले 25 रेल कर्मियों को पुरस्कृत किया गया। पुरस्कार मंडल रेल प्रबंधक सुनील कुमार ने सोमवार को दिया।

इस पुरस्कार में संकेत व दूरसंचार विभाग के चार, परिचालन विभाग की दो महिला कर्मी, अभियंत्रण विभाग के 17 रेलकर्मियों तथा दो लोकोपायलट/सहायक लोको पायलट को पुरस्कृत किया गया। इन सभी पुरस्कृत रेलकर्मियों ने रेल फ्रैक्चर,ओएचई हैंगिग को समय रहते चिन्हित किया, जिससे संभावित दुर्घटना को टाला जा सका।

दनकौर के ईएसएम राजेश कुमार सिंह ने ड्यूटी के दौरान 3 जनवरी को दानापुर स्टेशन लिमिट में ट्रैक सर्किट 307 पर रेल फ्रैक्चर देखकर, तत्काल इसकी सूचना स्टेशन मास्टर, दानापुर एवं कंट्रोल को देकर उक्त खण्ड को संरक्षित किया। इसी तरह दिलदारनगर के ट्रैक मैन योगेन्द्र यादव ने 14 जनवरी को कार्य के दौरान दरौली-जमानिया के बीच अप लाईन, कि.मी. 706/ 25-27 पर रेल फ्रैक्चर पाया, जिसकी सूचना स्टेशन मास्टर, दिलदारनगर एवं कंट्रोल को देकर, उक्त खण्ड को संरक्षित किया।

बिहियां में पोर्टर के तौर पर कार्यरत अनीता कुमारीने 18 जनवरी को ड्यूटी के दौरान कि.मी.-614/01-03, अप लाईन बिहियाँ स्टेशन लिमिट में रेल फ्रैक्चर पाया, जिसकी तत्काल सूचना बिहियां के स्टेशन मास्टर तथा कंट्रोल को दिया। जिससे उक्त खण्ड पर गुजरने वाली ट्रेन संरक्षित किया जा सका। फुलवारी शरीफ स्टेशन पर पोर्टर सीता देवी ने 18 जनवरी को फुलवारी शरीफ स्टेशन लिमिट डाऊन लाईन कि.मी. सं.-549/26-24 पर रेल फ्रैक्चर देखकर तत्काल इसकी सूचना स्टेशन मास्टर, फुलवारी एवं कंट्रोल को दिया। जिससे उक्त खण्ड पर गुजरने वाली गाङी संरक्षित किया गया।

झाझा में लोको पायलेट सुधीर कुमार सिंह एवं सहायक लोको पायलट अविनाश कुमारने 28 जनवरीको अपने कार्य के दौरान कि.मी.-430/09 पर, मनकठ्ठा -बड़हिया स्टेशनों के बीच ओ.एच.ई का वायर लटका हुआ देखकर तत्काल इसकी सूचना स्टेशन मास्टर बड़हिया एवं कंट्रोल को दिया, जिससे उक्त खण्ड से गुजरने वाली गाड़ियों को संरक्षित किया जा सका।

इन कर्मियों के अलावा अन्य 19 रेलकर्मीयों को भी पुरस्कृत किया गया है। जिन्होंने मंडल के विभिन्न हिस्सों में जनवरी माह 2021 में संरक्षा संबंधी उत्कृष्ट कार्य किये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *