हरियाणा: हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करनाल में 100 ऑक्सीजन बेड के एक नए फिल्ड अस्पताल तथा असंध के दो अस्पतालों में 30 ऑक्सीजन बेड की सुविधा की शुरूआत की।

हरियाणा, मई 10, 2021

  • चण्डीगढ 10 मई – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करनाल में 100 ऑक्सीजन बेड के एक नए फिल्ड अस्पताल तथा असंध के दो अस्पतालों में 30 ऑक्सीजन बेड की सुविधा की शुरूआत की। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने करनाल जिला प्रशासन द्वारा तैयार किए गए करनाल रिसोर्स लोकेटर मोबाईल एप की भी शुरूआत की।
  • इस मौके पर हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री कंवर पाल भी उपस्थित रहे और करनाल के सांसद श्री संजय भाटिया वीसी के माध्यम से जुड़े।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि यह महामारी अब शहरों तक ही सीमित नहीं रही बल्कि यह ग्रामीण क्षेत्रों में भी बढ़ रही है। इसकी रोकथाम के लिए हम व्यापक स्तर पर आवश्यक प्रबंध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर ऑक्सीजन बेड की तत्काल सुविधा मुहैया करवाने की आवश्यकता है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के एसीएस को निर्देश दिए कि वे ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित स्वास्थ्य केन्द्रों में जल्द से जल्द ऑक्सीजन बेड एवं अन्य जरूरी व्यवस्थाएं उपलब्ध करवांए ताकि इनका लाभ ग्रामीणों को तुरंत मिल सके।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्थापित 1800 वैक्सनेशन केन्द्रों पर लोगों को कोविड-19 से बचाव के अब तक 43 लाख टीके लगाए जा चुके हैं। वैक्सनेशन अभियान को और तेज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही 3.50 लाख टीके अैर मिल जाएगेें। फ्रंटलाईन वर्कर एवं कोविड महामारी में कार्य कर रहे सरकारी कर्मचारियों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर सर्वे करने के लिए गठित की गई 8 हजार टीमों को प्राथमिकता के आधार पर यह वेक्सिन लगाई जाएगी।
  • उन्होंने कहा कि प्रदेश में वर्तमान में एक लाख 16 हजार एक्टिव मरीज हैं तथा अस्पतालों में 10500 बेड उपलब्ध हैं। इसके अलावा, एक लाख 5 हजार मरीजोंं को होम आईसोलेशन में रखा गया है। उन्होंने कहा कि सभी के लिए 12 हजार ऑक्सीजन बेड की आवश्यकता है इसलिए 1250 ऑक्सीजन बेड और तैयार किए जा रहे हैं। पानीपत व हिसार में 500-500 बेेड तथा जिन्दल स्कूल में भी अतिरिक्त बेड लगाए जा रहे है। इस प्रकार, हर जिले के अस्पतालों में बेड बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। एसजीटी मेडिकल कॉलेज, गुरुग्राम व मेंदाता में भी बेड बढ़ाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि बीमारी बहुत बड़ी है, इसका मुकाबला सभी मिलकर करेंगे इसलिए सामाजिक संस्थाओं एवं निजी संस्थानों से सहयोग की अपील है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि करनाल रिसोर्स लोकेटर मोबाईल एप पर अस्पताल, एम्बुलेंस, मेडिकल स्टोर, प्लाज्मा डोनर, वैक्सनेशन सेंटर संबधी सभी आवश्यक सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी। करनाल जिला प्रशासन ने कोविड-19 की तीसरी लहर को रोकने के लिए विस्तृत योजना भी तैयार कर ली है। मुख्यमंत्री ने इस प्लान का भी अवलोकन किया।
  • सुपरवाईज होम केयर
  • वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान बताया गया कि करनाल जिले में एक्टिव केसों में से 7 से 8 प्रतिशत मरीज अस्पतालों में उपचाराधीन है। अन्य मरीज या तो होम क्वारंटीन हैं या कोविड केयर सेंटरों में हंै। इन मरीजों को सुपरवाईज होम केयर की सुविधा प्रदान करने के लिए एमबीबीएस के 200 विद्यार्थियों को विशेष ट्रेनिंग दी गई हैं। ये विद्यार्थियों एक दिन में 32 मरीजों से टेलिफोन पर सम्पर्क कर उनका हालचाल जान रहे हंै। इन विद्यार्थियों ने कुछ मरीजों को अस्पताल में दाखिल करने का सुझाव भी दिया है, जिसके बाद उन मरीजों को अस्पतालों में दाखिल करवाया जा रहा है। साथ ही, बताया गया कि जिस 100 बेड के नए फिल्ड अस्पताल की शुरूआत की गई है उसमें 60 बेड ऑक्सीजन कंसंट्रेटर युक्त हैं तथा अन्य कंसंट्रेटर आने तक 40 बेड ऑक्सीजन सिलेण्डर से युक्त किए गए हैं।
  • ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश का ऑक्सीजन कोटा 156 टन से बढकऱ 282 टन हो चुका है। इसके अलावा, केन्द्र से अतिरिक्त कोटा बढ़ाने की मांग की गई है ताकि भविष्य में यदि मरीजों की संख्या बढ़ती है तो किसी प्रकार की परेशानी न आए। उन्होंने कहा कि हालांकि एनसीआर के जिलों और जीटी रोड बेल्ट के अस्पतालों में 10 से 40 प्रतिशत मरीज दिल्ली के हैं, हम उनके लिए भी फिलहाल ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था कर रहे है। उन्होंने कहा कि हम बाहर से आने वाले किसी भी मरीज क इलाज करने से इंकार नहीं कर सकते।
  • घर घर ऑक्सीजन सिलेण्डर रिफिलिंग के लिए एक हजार आवेदन
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पोर्टल शुरु किया गया है। अभी तक इस पोर्टल पर एक हजार के लगभग आवेदन आ चुके है। घर घर सिलेण्डर पहुंचाने के लिए पोर्टल पर 150 संस्थाओं ने रजिस्ट्रेशन करवाया हैं।
  • उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों की टीमों ने गांव-गांव जाकर सर्वे शुरु कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम हर व्यक्ति तक पहुंचेगी और उनके स्वास्थ्य की प्रारम्भिक जांच करेंगी और कोविड के सम्भावित मरीजों को लाकर अस्पतालों में भर्ती करवाया जाएगा।
  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस ढेसी, अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा व श्री देवेन्द्र ंिसंह के अलावा मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. अमित अग्रवाल भी उपस्थित रहे।
  • क्रमांक-2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *