मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की घोषणा

भोपाल :मार्च 13, 2021: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है कि ऐसी ग्राम पंचायत, जहाँ बालक-बालिकाओं की जन्म दर का अनुपात समान है, को दो लाख रुपये का पुरस्कार दिया जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसी ग्राम पंचायत, जिसमें एक साल से विवाद न हुआ हो और न ही कोई एफआईआर दर्ज हुई हो, को भी दो लाख रुपये का पुरस्कार दिया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज सीहोर जिले के ग्राम खैरी सिलगेना में आयोजित कार्यक्रम में ये घोषणाएँ की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्राम खैरी सिलगेना में शिव यज्ञ में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों की भलाई के लिए लगातार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हम दिन-रात लोगों के विकास और कल्याण के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कोरोना काल का उल्लेख करते हुए कहा कि संकट के समय में प्रदेश सरकार ने गरीबों, किसानों, मजदूरों और जरूरतमंदों को राहत देने का काम किया है। उन्होंने बताया कि ऐसे जरूरतमंद वर्गों के खातों में एक लाख 18 हजार करोड़ रुपये पेंशन, छात्रवृत्ति, किसान सम्मान निधि और अन्य राहत के रूप में जमा कराये गये हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना के साथ ही बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ अभियान चलाया जा रहा है। बेटियों के साथ होने वाली हिंसा और अपराध को रोकने के लिए कानून बनाया गया है। अभी तक 72 लोगों को इस कानून के तहत फाँसी की सजा सुनाई गई है। उन्होंने सभी से आव्हान किया कि बेटा-बेटी में फर्क न करें, दोनों एक समान हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायतों और स्थानीय निकायों में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण का ही परिणाम है कि प्रदेश में 56 प्रतिशत महिलाएँ चुनाव जीतकर आईं और बेहतर ढंग से पंचायतों और निकायों को चला रही हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौ-संरक्षण के लिए सरकार के साथ समाज को भी आगे आना होगा, तभी इसके सार्थक परिणाम मिलेंगे। उन्होंने कहा कि जो गौ-शालाएँ जन-भागीदारी से संचालित हो रही हैं, उनके परिणाम बहुत अच्छे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराधियों और रसूखदार अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जा रही है। अनेक शहरों में बड़े-बड़े अतिक्रमण हटाये गये हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीब मेधावी बच्चे उच्च शिक्षा से वंचित न रहें, इसके लिए सरकार आईटीआई, मेडिकल और अन्य तकनीकी पढ़ाई का खर्च उठायेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बिगड़ते पर्यावरण पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि सभी लोग पेड़ लगायें, विशेष रुप से जब बच्चों का जन्म-दिन हो या विवाह की वर्षगाँठ। साथ ही अनेक सभी विशेष अवसरों पर पेड़ लगाना चाहिए। इससे पर्यावरण में सुधार आयेगा। उन्होंने कहा कि हमें आने वाली पीढ़ी को शुद्ध वातावरण देना है। इसलिए हम सभी को मिलकर पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करना होगा।

नक्षत्र वाटिका का लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंदिर परिसर में नक्षत्र वाटिका का लोकार्पण कर पौध-रोपण भी किया। उन्होंने कहा कि जनता की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं है और जन-सेवा से जो पुण्य मिलता है, उससे बड़ा कोई पुण्य नहीं है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम के प्रारंभ में पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख, शांति और कल्याण की कामना की। सांसद श्री रमाकांत भार्गव और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *