तकनीकी शिक्षा एवं शिक्षा राज्य मंत्री ने किया सीकर में कोरोना रोकथाम जन आन्दोलन का शुभारंभ मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग एवं बार-बार हाथ धोना ही कोरोना से बचाव का आधार – तकनीकी शिक्षा एवं सूचना एवं जनसम्पर्क राज्य मंत्री

जयपुर ,5 अक्टूबर। सीकर जिले के प्रभारी एवं तकनीकी शिक्षा एवं सूचना एवं जनसम्पर्क राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा है कि मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना तथा बार-बार हाथ धोना ही एक मात्र कोरोना से बचाव का मूल मंत्र है। उन्होंने कहा कि कोरोना जागरूकता जन आन्दोलन के दौरान गांधीवादी तरीके से आमजन को मास्क पहनने के लिए प्रेरित किया जाए। वे सोमवार को नगर परिषद में आयोजित कोरोना के विरूद्ध जन आन्दोलन के शुभारम्भ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री डॉ. गर्ग ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ‘‘नो मास्क नो एन्ट्री’’ की पहल को आमजन के हित में एक जनांदोलन में परिर्वतित करने के उद्देश्य से इस कार्यक्रम का आगाज किया गया हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने विशेषज्ञ चिकित्सकों से ली गई राय में भी यह स्पष्ट सन्देश है कि मास्क है तो कोरोना के खतरे से काफी हद तक बचा जा सकता है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री ने निरोगी राजस्थान का नारा दिया है जिसे हम सभी को साकार करना है।
उन्हाेंने कहा कि हमें संकल्प लेना है कि घर से बाहर कहीं भी जाएंगे तो मास्क आवश्यक रूप से पहनेंगे तथा इस संबंध में अन्य लोगों को भी प्रेरित करेंगे। उन्हाेंने जनप्रतिनिधियों, पार्षदगणों एवं कोरोना वारियर्स को प्रतिदिन अपने वार्ड में भ्रमण कर गांधीवादी तरीके से समझाईश कर विनम्रता के साथ मास्क पहनने एवं कोरोना से बचाव के लिए

एहतियाती उपाय अपनाने के लिए जागरूक करने को कहा। उन्होंने कहा कि नो मास्क नो एन्ट्री की समझाईस से पालना करने पर ही महामारी पर लगाम लग सकेगी और इससे बचाव हो सकेगा। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों एवं मीड़िया, कोरोना वारियर्स को कोरोना महामारी के दौरान फेस मास्क पहनने तथा अपने परिवार, संबंधियों तथा मित्रों को भी मास्क के अधिकाधिक प्रयोग के लिए प्रेरित करने को कहा।
तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत लगातार विडियो कांफ्रेंसिंग, अन्य प्रचार-प्रसार के माध्यमों से कोरोना के प्रति आमजन को जागरूक करने के लिए निरन्तर प्रयासरत हैं। उन्होंने कहा कि जीवन अमूल्य है, यह हमे सोचना और समझना होगा। साथ ही आमजन के जीवन को बचाना सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकता है तथा सरकार हर संभव प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि जीवन बचाने के लिए सीकर में चिकित्सा व्यवस्थाओं एवं संसाधनों की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि सीकर शहर तथा गांव, ढाणी, प्रत्येक वार्ड में घर-घर जाकर आमजन को मानसिक रूप से मास्क पहनने, दो गज दूरी बनाने तथा सेनेटाइज का उपयोग करने के लिए तैयार करने में पार्षदगणों की विशेष जिम्मेदारी है जिसे वे गम्भीरता के साथ लेकर निर्वहन करें ताकि महामारी से बचाव हो सके।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक जन को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करना हम सभी का दायत्वि है। उन्होंने कहा कि जन आन्दोलन के दौरान प्रत्येक वार्ड में पार्षदगणों के नेतृत्व में कोरोना वारियर्स के सहयोग से आमजन को गांधीवादी तरीके से मास्क पहनने के लिए समझाईश की जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री के स्वयं मास्क पहनने तथा सभी को मास्क पहनाने के सन्देश को जन जन तक पहुंचाने का आहवान किया।
प्रभारी मंत्री डॉ. गर्ग ने कहा कि सीकर में कोरोना जागरूकता जन आन्दोलन में अपार जन सहयोग मिलेगा तभी कोरोना की लड़ाई हम जीत पाएंगे। हमें कोरोना की लड़ाई भी लड़नी है तथा आजीविका की लड़ाई भी जितनी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का संकल्प है कि कोई भूखा नहीं सोए तथा किसी की आजीविका भी नहीं छिने । उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति प्लाजमा  डोनेट करें, एक प्लाजमा कई जिन्दगी बचा सकता है। उन्होंने पुलिस कार्मिकों से कहा कि वे मतदान ड्यूटी पर जाए तो मास्क का प्रयोग, हाथ सेनेटाईजर करें व सामाजिक दूरी का ध्यान जरूर रखें। उन्होंने जिला कलेक्टर को निर्देश दिये कि  जहां पंचायतराज चुनाव हो रहे है वहां मतदान केन्द्रों पर  मास्क वितरण करें और लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि आमजन गांव, ढाणी तक कोरोना जन आन्दोलन की अलख जगाते हुए इसमें सभी अपनी आहूति देवें॥
कार्यक्रम में शिक्षा, पर्यटन एवं देवस्थान राज्यमंत्री श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि कोरोना महामारी के विरूद्ध यह लड़ाई लम्बी चलेगी, इसलिए प्रत्येक व्यक्ति मास्क लगाएगा, सामाजिक दूरी रखेगा तो वह स्वयं तथा पूरे परिवार को बचा पाएंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना को हल्के में नहीं लेें। उन्होंने कोरोना की लड़ाई में शिक्षण संस्थानों, व्यापार संगठन, एनजीओं, मीडिया सहित सभी को भागीदारी निभाने का आव्हान किया।  उन्होंने  कहा कि कोरोना की लडाई में धन की कोई कमी नहीं है। राज्य सरकार ने एक करोड़़ मास्क स्थानीय निकाय, नगर पालिकाओं से वितरित करने का लक्ष्य रखा है।
सीकर जिले के प्रभारी सचिव एवं राजस्थान राज्य विद्युत प्रसारण निगम जयपुर के अध्यक्ष श्री दिनेश कुमार ने कहा कि कोरोना तीन तरह से फैलता है। छूने से,  बात करने से तथा मास्क का प्रयोग नहीं करने से फैलता है।  उन्होंने बताया कि जब तक वैक्सीन नहीं आये, हमें सर्तक रहना है।
दांतारामगढ़ विधायक श्री वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि कोरोना के लॉकडाउन से लेकर आज तक जिला प्रशासन ने बेहतरीन कार्य किया है। यह लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है। इसी प्रकार जिला प्रशासन को आगे भी एक्टिव रहकर कार्य करने होंगे।
नीमकाथाना विधायक श्री सुरेश मोदी ने कहा कि कोरोना के विरूद्ध इस अभियान में हर व्यक्ति, घर, परिवार , समाज को साथ जुड़कर इस आंदोलन में अपनी भागीदारी निभानी होगी।
सीकर जिला कलेक्टर श्री अविचल चतुर्वेदी  ने जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मौजूदा दौर में कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है। आमजन को सहयोग और आपसी समन्वय से हम लगातार इस महामारी पर नियंत्रण पा रहे है और पूरा विश्वास है कि इस महामारी को हराने में हम जल्दी ही सफल होंगे।
नगर परिषद सभापति श्री जीवण खां ने समारोह में कहा कि कोरोना से सावधानी ही इसका बचाव है।
कार्यक्रम में नगर परिषद द्वारा तैयार करवाये गये कोरोना जागरूकता पोस्टर का प्रभारी मंत्री डॉ. गर्ग , शिक्षा राज्य मंत्री श्री डोटासरा, प्रभारी सचिव श्री दिनेश कुमार, जिला कलेक्टर श्री  चतुर्वेदी  ने विमोचन किया।
इस अवसर पर उप सभापति अशोक चौधरी, पीसी जाट, गोविन्द पटेल सहित बड़ी संख्या में जन प्रतिनिधि, जिला स्तरीय अधिकारी, कर्मचारी, स्काउट  गाईड, आंगनबाडी कार्यकर्ता, एनएसएस सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
बस डिपो पर जागरूकता पद यात्रा कर मास्क का किया वितरण ः
राज्य सरकार द्वारा कोरोना आपदा के तहत चलाए जा रहे नो मास्क-नो एन्ट्री अभियान के तहत प्रत्येक व्यक्ति को मास्क लगाने के संबंध में जागरूक करने के लिए सीकर  जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग, प्रभारी सचिव, जिला कलेक्टर सहित अधिकारियों ने शहर के बस डिपो पर जागरूकता पद यात्रा करते हुए बस यात्रियों,चालक, परिचालक सहित आमजन को फेस मास्क का वितरण किया। उन्होंने जिन लोगों ने मास्क नहीं  लगा रखे थे उनकों निःशुल्क मास्क वितरित कर नियमित मास्क लगाने के लिए समझाईश की।
 राज्य सरकार आमजन की सुरक्षा एवं स्वास्थ्य के लिए  प्रयासरत है ः –

सीकर जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता में कहा कि राज्य सरकार कोरोना महामारी को लेकर गंभीर है, इस वैश्विक महामारी के दौर में  केवल आमजन की सुरक्षा एवं स्वास्थ्य के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि सरकार आमजन को सामाजिक व धार्मिक आयोजनों में कम से कम लोगों को एकत्रित होने के साथ ही प्रशासन की अनुमती से लोगों को शामिल करने, कोरोना गाईड लाईन की पालना करने व सोशल डिस्टेंस अपनाने पर जागरूक कर रही हैं ।
 उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि देशभर में बढ़ते कोरोना ग्राफ को लेकर लॉकडाउन इलाज नहीं है जबकि प्रत्येक व्यक्ति को जागरूक होना आवश्यक है की  घर से बाहर जाते समय मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें, बार-बार हाथ सैनिटाइज करें व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करें।  वैश्विक महामारी से आज हर कोई परिचित है इसको ध्यान में रखते हुए प्रत्येक सामाजिक व र्धामिक त्यौंहारों को भी परिवार के साथ मनाएं, र्धामिक आयोजनों से बड़ी व्यक्ति की जिंदगी है । कोरोना महामारी ने सरकार व आम आदमी को जीने का एक नया तरीका सिखा दिया है कि किस प्रकार इस बीमारी से बचा जा सकता है और किस प्रकार र्धामिक और सांस्कृतिक आयोजन आयोजित किए जा सकते हैं। प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों को भी बैठक में  कोरोना संक्रमण को लेकर पीएमओ व डिप्टी सीएमएचओ को सभी चिकित्सा सुविधाओं, जांच व अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में निर्देशित किया गया है। उन्होंने कहा कि सीकर जिले में मेरी प्रमुख प्राथमिकता चिकित्सा सुविधा व मेडिकल शिक्षा पर जोर रहेगा, साथ ही उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज इसी सत्र से शुरू करने की संभावना है ।

उन्होंने बताया कि राज्य में कोरोना जागरूकता व कोरोना रिकवरी रेट की बात करें तो राजस्थान नंबर वन पर है जो अन्य राज्यों से मेडिकल सुविधाओं में बहुत ही ज्यादा विकसित है। राजस्थान के कोविड सेंटरों में 40 से 50 हजार रुपए के इंजेक्शन फ्री में दिए जा रहे हैं साथ ही जांच की राशि भी बहुत कम कर दी गई है, ऎसी सुविधाएं अन्य राज्यों में नहीं है, साथ ही मेडिकल सुविधाओं में भी काफी बढ़ोतरी हुई है।

प्रभारी मंत्री डॉ. गर्ग ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आमजन से संदेश है कि कोरोना महामारी के दौरान चाहे किसी से भी पैसा मांगना पड़े मगर राजस्थान की जनता को कोई तकलीफ नहीं होगी। उन्होंने कहा कि कोई भूखा नहीं सोए वह किसी की भी कोरोना से मौत नहीं हो इसकों लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग लगातार अपनी सेवाएं दे रहा है तथा प्रत्येक जिले में मोबाईल  वेन, जांच की  सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। राज्य सरकार प्रयासरत है कि प्रदेश के र्आथिक विकास, सामाजिक सरोकार के लिए किसान, युवा, दलित वर्गों को जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिले। प्रेसवार्ता में प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग, शिक्षा, पर्यटन एवं देवस्थान राज्य मंत्री श्री  गोविन्द सिंह डोटासरा, प्रभारी सचिव श्री दिनेश कुमार, सीकर जिला कलेक्टर सहित मीड़िया कर्मी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *