उत्तर प्रदेश: कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए योगी सरकार ने बढ़ाया कर्फ्यू, दो दिन और रहेगा लॉकडाउन

लखनऊ, मई 3, 2021: कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने ने कर्फ्यू को दो दिन और बढ़ाने का फैसला लिया है। मंगलवार सुबह सात बजे तक रहने वाला लॉकडाउन अब 6 मई गुरुवार सुबह सात बजे तक जारी रहेगा।

उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को लॉकडाउन लगाया गया था। शुक्रवार रात 8 बजे शुरू हुआ लॉकडाउन अब पांच दिन का हो गया है। अब गुरूवार सुबह सात बजे तक लॉकडाउन रहेगा। इस बीच जरूरी सेवा पहले की तरह खुली रहेगी। नगर पालिका और नगर निगम की टीम इस बीच जगह-जगह सैनिटाइजेशन का काम करेंगी। लॉकडाउन के कारण अब प्रदेश में पंचायत चुनाव के विजेता विजय रैली करने से भी वंचित रहेंगे।

कोरोना का  मामला लगातार उत्तर प्रदेश में बढ़ता जा रहा है। जिस वजह से सरकार ने पहले वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान किया जिसे अब गुरूवार तक बढ़ा दिया है। इस लॉकडाउन में किसी को बेवजह घूमने पर पाबंदी है। मगर जरूरी क्षेत्र के लोगों को छूट रहेगी और परिवहन भी बंद नहीं होगा। बाजार नहीं खुलेगा और साप्ताहिक बाजार भी नहीं लगेगा।

जारी रहेगा कोरोना टेस्ट और वैक्सीनेशन

लॉकडाउन में कोरोना वैक्सीनेशन और औद्योगिक गतिविधियों में कोई रुकावट नहीं आएगी। तय अवधि के लिए फल, सब्जी, दूधऔर राशन जैसी आवश्यक सामानो की दुकाने खुली रहेगी। साथ ही पेट्रोल पंप, गैस सिलेंडर और दावा की दुकाने हमेशा खुली रहेगी। सरकारी कर्मचारी आ-जा सकेंगे, उन्हें बस अपनी आईडी कार्ड दिखानी होगी। प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक्स मीडिया के लोगों को छूट होगी। गर्भवती महिलाएं और बीमार लोग हॉस्पीटल आ-जा सकेंगे।

कल से गावों में होगा कोरोना स्क्रीनिंग

पंचायत चुनाव की वजह से गांव में तेजी से कोरोना बढ़ रहा है। इसको रोकने के लिए योगी सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश के सभी 97 हजार राजस्व गावों में कोरोना को लेकर एक अभियान चार मई से शुरू किया जाएगा। जो अगले चार दिनों तक चलेगा। गांव में ग्राम पंचायत की टीम भेजकर स्क्रीनिंग अभियान चलाया जाएगा। खांसी, बुखार और जुकाम जैसे लक्षण वाले लोगों का टेस्ट कर उन्हें आइसोलेशन में भेजा जाएगा। यदि घर में आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं होगी तो सरकार इसका इंतजाम करेगी। बाहर से सिर्फ वोट डालने आए लोगों पर कड़ी नज़र रखी जाएगी। इसके अलावा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जरुरी सुविधओं वाला अस्पताल तैयार करने का निर्देश है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *