राजस्थान: जैसलमेर जिले के ग्रामीण अंचलों का किया दौरा, लोक स्वास्थ्य रक्षा का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता पर, युद्धस्तर पर निभाएं दायित्व – अल्पसंख्यक मामलात मंत्री

जयपुर, 18 मई 2021: अल्पसंख्यक मामलात मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने मौजूदा परिस्थितियों में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं की समय पर उपलब्धता को सर्वोपरि जनसेवा और सरकार की प्राथमिकता बताते हुए लोेक स्वास्थ्य रक्षा के तमाम प्रबन्धों को हमेशा बेहतर बनाए रखने पर बल दिया है और इसके लिए सभी संबंधित अधिकारियों एवं कार्मिकों से समर्पित सेवाओं को और अधिक व्यापक बनाने का आह्वान किया है।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने यह आह्वान मंगलवार को जैसलमेर जिले के पोकरण विधानसभा क्षेत्र अन्तर्गत विभिन्न अस्पतालों के निरीक्षण के दौरान किया। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने सांकडा, भणियाणा एवं फलसूण्ड में संचालित राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया।
उन्होंने इस दौरान इन अस्पतालों के सभी वार्डों, औषधि वितरण केन्द्र, ओपीडी, कोविड केयर सेंटर, जांच प्रयोगशाला आदि का निरीक्षण किया, विभिन्न मशीनों की क्रियाविधि एवं उपयोगिता के बारे में जानकारी ली, चिकित्सकों एवं स्टाफ से अस्पताल की समस्याओं और जरूरतों के बारे में पूछा तथा मरीजों की कुशलक्षेम पूछते हुए चिकित्सा के प्रबंधों तथा दवाइयों, जाँच कार्य आदि के साथ ही सरकारी योजनाओं के लाभों के बारे में फीडबेक लिया।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने इन सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में कोविड से बचाव व रोकथाम के उपायों, कोविड केयर सेंटर्स की गतिविधियों, सुविधाओं तथा संसाधनों एवं इन केन्द्रों से संबंधित तमाम प्रबन्धों की विस्तार से जानकारी ली और कोविड केयर सेंटर्स का अवलोकन किया। उन्होंंने इन सेंटर्स में अन्य व्यवस्थाओं के साथ ही ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता हमेशा बनाए रखने तथा जरूरत के हिसाब से ऑक्सीजन सिलेंडर का अतिरिक्त स्टॉक रखने के निर्देश दिए।
उन्होंने कोरोना से संबंधित सर्वे कार्य, मरीजों के ईलाज, होम आईसोलेशन गतिविधियों तथा कोरोना से बचाव एवं रोकथाम के प्रयासों के अन्तर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित लोक जागरण गतिविधियों के बारे में भी जानकारी ली और निर्देश दिए कि लोक चेतना से संबंधित प्रचार-प्रसार कार्यों को और अधिक गति प्रदान की जाए।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ तथा व्यापक बनाने के लिए हरसंभव प्रयासों में जुटी हुई है और इस समय हम सभी का सर्वोच्च लक्ष्य है लोक स्वास्थ्य की रक्षा करना तथा कोविड से प्रभावित लोगों के जीवन की रक्षा। इसके लिए युद्धस्तर पर सभी संभव प्रयास जारी हैं और इनमें कहीं कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।
श्री शाले मोहम्मद ने कहा कि क्षेत्र के अस्पतालों में जरूरी जांच मशीनों को मुहैया कराने का काम प्राथमिकता से किया जाएगा। उन्होंने सांकड़ा सीएचसी में सीआरपी मशीन, भणियाणा सीएचसी में सीबीसी, सीआरपी एवं डिजिटल एक्सरे मशीन तथा फलसूण्ड सीएचसी में डिजिटल एक्सरे मशीन दिए जाने की घोषणा की।
इस दौरान पोकरण के उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सहित अन्य अधिकारी एवं ग्राम्य जन प्रतिनिधिगण साथ थे।
सांकड़ा के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. जसवन्त सिंह ने अस्पताल की व्यवस्थाओं की जानकारी देते हुए बताया कि कोविड केयर सेंटर का संचालन आरंभ कर दिया गया है। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री को स्वास्थ्य केन्द्र में जनरल वार्ड के लिए भवन निर्माण का आग्रह किया गया। इस पर मंत्री ने आश्वासन दिया कि इस दिशा में प्रयास किए जाएंगे।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री श्री शाले मोहम्मद ने भणियाणा के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में अन्य तमाम व्यवस्थाओं के साथ ही कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया और वहां के प्रबन्धों की सराहना की ।
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने फलसूण्ड के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया और विभिन्न गतिविधियों का अवलोकन किया। खासकर उन्होंने कोविड केयर सेंटर के प्रबन्धों, सुविधाओं व सेवाओं की जानकारी ली। उन्होंने अस्पताल में निर्बाध बिजली उपलब्धता के साथ ही कोविड केयर सेंटर की क्षमता में बढ़ोतरी करने के निर्देश दिए।
ग्रामीणों की समस्याओं को सुना, समाधान का आश्वासन
अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने पोकरण, सांकड़ा, भणियाणा एवं फलसूण्ड आदि ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान विभिन्न स्थानों पर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा इनके निराकरण के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए। मंत्री ने कहा कि बुनियादी लोक सुविधाओं तथा सेवाओं से संबंधित समस्याओं और शिकायतों के निस्तारण का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *