हरियाणा: हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज चंडीगढ़ से 10 ‘मिनी बस-एंबुलेंसों’ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये ‘मिनी बस-एंबुलेंस’ पंचकूला व अंबाला में कोविड-19 के गंभीर मरीजों को अस्पतालों तक पहुंचाने का काम करेंगी।

हरियाणा, मई 12, 2021

  • चंडीगढ़, 12 मई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज चंडीगढ़ से 10 ‘मिनी बस-एंबुलेंसों’ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये ‘मिनी बस-एंबुलेंस’ पंचकूला व अंबाला में कोविड-19 के गंभीर मरीजों को अस्पतालों तक पहुंचाने का काम करेंगी। पूरे प्रदेश के लिए ऐसी कुल 110 ‘मिनी बस-एंबुलेंसों’ का तैयार किया गया है।
  • इस अवसर पर हरियाणा के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा, परिवहन विभाग के प्रधान सचिव व एडीजीपी श्री शत्रुजीत कपुर, मुख्यमंत्री के प्रधान मीडिया एडवाइजर श्री विनोद महता, चंडीगढ़ डिपो के जीएम श्री अरविंद शर्मा,पंचकूला जिला के जीएम श्री विनेश कुमार, अंबाला जिला के जीएम श्री मनीष सहगल, यातायात प्रबंधक श्री व्योम शर्मा समेत अन्य वरिष्ठï अधिकारी मौजूद थे।
  • चंडीगढ़ से इन ‘मिनी बस-एंबुलेंस’ को रवाना करने से पूर्व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने एंबुलेंस के चालकों से बातचीत की और बेहतर ढंग से कार्य करने के लिए प्रेरित किया। मुख्यमंत्री ने उनको समझाया कि कोविड-19 के दौरान एंबुलेंस के माध्यम से गंभीर मरीजों को अस्पतालों तक पहुंचाना केवल नौकरी करना नहीं बल्कि सेवा-भाव का कार्य है। रोडवेज विभाग में यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने और एंबुलेंस में चालक का कार्य करने का ‘नेचर ऑफ जॉब’ अलग प्रकार का है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के समय में परस्पर सहयोग ही लोगों के दुख-दर्द को कम कर देता है।
  • मुख्यमंत्री ने चंडीगढ़ स्थित सीएम आवास से इन ‘मिनी बस-एंबुलेंसों’ को हरी-झंडी दिखाने के बाद बताया कि कोविड-19 के गंभीर मरीजों को तत्काल अस्पताल पहुंचाने के लिए राज्य सरकार ने हरियाणा रोडवेज की 110 मिनी बसों की यात्री-सीटों को हटाकर उनकी जगह बैड लगाकर एंबुलेंस में परिवर्तित किया है। प्रत्येक जिला को 5-5 ‘मिनी बस-एंबुलेंस’ दी जाएंगी। प्रत्येक एंबुलेंस में 4 बेड, दो ऑक्सीजन सिलेंडर, मास्क, सैनेटाइजर, पीपीई किट व फस्र्ट-एड किट आदि की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा, हर जिला में एक-एक बड़ी ए.सी. बस भी उपलब्ध रहेगी, जिसको आईसोलेशन-सैंटर की तरह प्रयोग किया सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के लोगों को इस महामारी से निकालने के लिए गंभीर रूप से प्रयासरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *