बिहार: बाढ़ की पूर्व तैयारी में जुटा जिला प्रशासन, आवश्यक निर्देश जारी

पटना, अप्रैल 07, 2021: जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह ने आपदा प्रबंधन के तहत बाढ़ पूर्व तैयारी हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों तथा सभी अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास अधिकारी अंचलाधिकारी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की तथा आवश्यक निर्देश दिया।

बैठक में जिलाधिकारी ने तटबंध की मरम्मति एवं सुरक्षा, शरण स्थल का चयन एवं भौतिक सत्यापन, मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्ति, मानव दवा की उपलब्धता, पशुचारा, पशुदवा, पशु शरण स्थल, राहत एवं बचाव टीम का गठन, नियंत्रण कक्ष के लिए स्थल का चयन, कम्युनिकेशन प्लान, नाव एवं उसका निबंधन, नाविक की सूची एवं पंचायतवार टैगिंग, सामग्री का क्रय एवं आपूर्ति, महाजाल की उपलब्धता आदि बिंदुओं के तहत बाढ़ पूर्व तैयारी की समीक्षा की।

जिलाधिकारी डॉ सिंह ने जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता को तटबंधों की सुरक्षा एवं सुदृढ़ीकरण हेतु सभी तटबंधों का निरीक्षण करने तथा मरम्मति का कार्य अति शीघ्र पूरा कर प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। साथ ही जिला समादेष्टा होमगार्ड को तटबंधों की सुरक्षा हेतु पर्याप्त संख्या में होमगार्ड की प्रतिनियुक्ति कर सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने सरकारी एवं निजी नावों की अंचलवार सूची उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने निजी नावों का निबंधन करने तथा स्थलवार टैगिंग करने को कहा। साथ ही नाविकों की सूची तैयार करने तथा समुचित प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया ताकि उचित समय पर उनका उपयोग किया जा सके।

उन्होंने अंचलाधिकारी को बाढ़ के समय लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाने एवं ठहराने हेतु शरणस्थल का चयन करने एवं उस स्थान पर मेडिकल टीम, दवा, खाने पीने की व्यवस्था, बिजली आपूर्ति, पुरुष-महिला शौचालय, पेयजल सहित अन्य अपेक्षित आवश्यकता की पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को अंचल वार बाढ़ प्रवण क्षेत्र की सूची तैयार करने तथा उस क्षेत्र में चिन्हित शरण स्थल का भ्रमण कर सत्यापन करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने बाढ़ के समय पशुओं को सुरक्षित स्थान पर ले जाने तथा उन्हें उस स्थान पर रखने हेतु पशु आश्रय स्थल को चिन्हित करने तथा सूची तैयार रखने का निर्देश दिया। साथ ही पशुओं के लिए चारा, दवा तथा पशु चिकित्सक की पूर्व तैयारी रखने को कहा।

जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में खराब चापाकलों की मरम्मति करने तथा उस क्षेत्र में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित कराने की व्यवस्था करने का निर्देश पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता को दिया। बैठक में अवगत कराया गया कि सभी प्रखंड में वर्षा मापक यंत्र अधिष्ठापित तथा कार्यरत है। अब सभी पंचायतों में भी वर्षा मापक यंत्र लगाया जाना है। इसके लिए प्रखंड कृषि पदाधिकारी द्वारा किसान सलाहकार एवं कृषि समन्वयक के माध्यम से सूची तैयार किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने 15 जून के पहले वर्षा मापक यंत्र लगाने को कहा तथा अप्रैल, मई में लगाए जाने वाले यंत्र की माहवार सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने सभी अंचलाधिकारी को बाढ़ प्रवण क्षेत्र, उस क्षेत्र में परिवार की संख्या, व्यक्ति की संख्या का पंचायतवार, वार्डवार रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।

बैठक में अपर समाहर्ता आपदा अरुण कुमार झा अपर समाहर्ता राजस्व राजीव श्रीवास्तव अपर समाहर्ता आपूर्ति निर्मल कुमार अनुमंडल पदाधिकारी पटना सदर नितिन कुमार सिंह जिला कृषि पदाधिकारी राकेश रंजन सहित कई जिला स्तरीय अधिकारी तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सभी अनुमंडल पदाधिकारी सभी अंचल अधिकारी एवं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी संबद्ध थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *