नई दिल्ली: पतंजलि को IMA का नोटिस, आचार्य बालकृष्ण ने कहा देंगे करारा जवाब

नई दिल्ली, 28 मई 2021: पतंजलि योगपीठ ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि की है कि एलोपैथी चिकित्सा पद्धति पर टिप्पणी करने के संबंध मे योग गुरु रामदेव से माफी की माँग को लेकर IMA की ओर से उन्हें मानहानि नोटिस मिला है। योगपीठ के द्वारा कहा गया कि वह कानूनी तरीके से इसका जवाब देगी।

पीटीआईं के एक ई-मेल के जवाब में पतंजलि योगपीठ के महासचिव आचार्य बालकृष्ण ने कहा,  ‘हम IMA को कानूनी रूप से ही करारा जवाब देंगे, जैसे की हम अपनी महान मातृभूमि और मानवता की सेवा करते हुए जिस प्रकार से सब कुछ करते हैं। उन्होंने कहा पतंजलि सारी गतिविधियां वैज्ञानिक और सत्यता को ध्यान मे रखकर करता है और वह किसी को भी ऋषियों और शास्त्रों के महान ज्ञान और विज्ञान की उपेक्षा करने नहीं देगा।”

आईएमए ने बुधवार को एलोपैथ एवं एलोपैथी पद्धति के चिकित्सको पर अपमानजनक टिप्पणी के लिए रामदेव को छः पन्ने की मानहानि नोटिस भेजी है। इस नोटिस में उन्होंने 15 दिन के अंदर अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगने को कहा है। अगर योग गुरु ऐसा नहीं करते है तो उन्हें हर्जाने के तौर पर 1000 करोड़ रूपए मांगने की बात इस नोटिस मे कही गई है।

आईएमए के सचिव अजय खन्ना द्वारा भेजे गए नोटिस मे योग गोरु रामदेव पर एलोपैथी और उनके डॉक्टरों का नाम खराब करने का आरोप लगाया गया है। आईएमए ने प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री से अपील की है कि टीकाकरण और कोरोना के उपचार के लिए सरकारी प्रोटोकॉल को चुनौती देने के कारण योग गुरु के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *