मध्य प्रदेश: कोरोना कर्फ्यू में हमें कोरोना संक्रमण की चैन को तोडना होगा: केन्द्रीय राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते

डिंडोरी, 04 मई 2021: भारत सरकार के केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू में हमें कोरोना संक्रमण की चैन को तोडना होगा। इसके लिए सभी का सहयोग लें और निष्ठापूर्वक काम करें। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किये जा रहे कार्यों पर निगरानी रखने के लिए आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यों को भी शामिल किया जाए। इससे कोरोना संक्रमण की महामारी को रोकने में मदद मिलेगी। केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते मंगलवार को सर्किट हाउस डिंडौरी में आयोजित बैठक में उक्त निर्देश दिए। इस अवसर पर पूर्व केबिनेट मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री नरेन्द्र राजपूत, जिला भाजपा महामंत्री श्री राजेन्द्र पाठक, नगर पंचायत अध्यक्ष श्री पंकज सिंह तेकाम, नगर पंचायत उपाध्यक्ष श्री महेश पाराषर, कलेक्टर श्री रत्नाकर झा, पुलिस अधीक्षक श्री संजय सिंह, एसडीएम डिंडौरी श्री महेश मण्डलोई, एसडीएम शहपुरा श्रीमति अंजू अरूण विश्वकर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ0 रमेश मरावी, श्री प्रभात जैन सहित विभागीय अधिकारी मौजूद थे।
केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए, रेमडिसीविर इंजेक्षन, ऑक्सीजन, दवाईयां, कोरोना किट, ऑक्सोमीटर, थर्मल स्कैनर और मरीजों के लिए आईसीयू और सामान्य बैड पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। उन्होंने किल कोरोना अभियान के अंतर्गत डोर-टू-डोर संपर्क कर बुखार, सर्दी और खासी से प्रभावित मरीजों का उपचार करने के निर्देश दिए। जिलें में कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या अधिक होने पर कोरोना के टेस्ट बढाने को कहा गया। इससे स्वास्थ्य परीक्षण की संख्या बढेगी और शीघ्रता से संक्रमित व्यक्तियों की पहचान कर उपचार किया जा सकेगा।
केन्दीय इस्पात राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने जिला चिकित्सालय डिंडौरी की स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए रोस्टर के अनुसार डॉक्टरों की डयूटी लगाने के निर्देश दिए। जिससे मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो सके। उन्होंने होम क्वारंटाईन मरीजों पर भी निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। होम क्वारंटाईन व्यक्तियों को नियमित रूप से दवाईया दें और उनका आक्सीजन लेवल चेक करें। उन्होंने होम क्वारंटाईन व्यक्तियों के स्वास्थ्य के संबंध में रोजाना रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। होम क्वारंटाईन व्यक्तियों पर निगरानी रखने के लिए अधिकारी एवं कर्मचारियों के दलों को जिम्मेदारी सौंपने को कहा गया। होम क्वारंटाईन व्यक्तियों को शासन के आदेशों का पालन करना होगा। उल्लंघन करने की स्थिति में उन्हें कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया जाए।
केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने और लोगों में जागरूकता लाने के लिए सामाजिक संस्थान और समाज सेवकों की भी सहभागिता सुनिश्चित की जाए। कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों के बारे में लोगों को जानकारी दी जाए। उन्होंने जागरूकता के लिए चित्रकला, लेखन और पेंटिग को माध्यम बनाने के निर्देश दिए। केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने कोविड केयर सेंटरों का संचालन और देखभाल सफलता पूर्वक करने के निर्देश दिए हैं। कोविड केयर सेंटरों में भोजन की व्यवस्था, साफ-सफाई, पानी का प्रबंध, बिजली, फिनाइल, साबुन सहित सभी आवश्यक सुविधाए उपलब्ध होनी चाहिए। कोविड केयर सेंटर के मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलेण्डर, दवाईयां और कोरोना किट पर्याप्त मात्रा में रखी जाए। जिससे कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीजों को किसी भी प्रकार की कठिनाई न हो।
केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए 18 से अधिक आयु वर्ग के सभी व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा रहा है। यह टीकाकरण कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पूर्णरूप से सुरक्षित है। उन्होंने टीकाकरण के लिए सचिव, रोजगार सहायक, पटवारी सहित मैदानी अमले को टारगेट देने के निर्देश दिए। जिससे टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा किया जा सके। केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री कुलस्ते ने जिले में कोरोना कर्फ्यू का कडाई से पालन कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को समझाईस दें कि घर में रहें, सुरक्षित रहें, बिना किसी वजह के घर से बाहर न निकलें। हमेशा मास्क पहनें, हाथों को सेनेट्राईज करें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *