जयपुर, 29 जून। स्मार्ट परियोजना के तहत जयपुर शहर में विद्युत बचत एवं प्रदूषण मुक्त विद्युत उत्पादक उपकरणों के उपयोग पर बल देते हुए नियोजित सोलर पैनलों से कुल 1575 किलोवाट विद्युत उत्पादन प्रारम्भ हो गया है, वही शेष 455 किलोवाट विद्युत उत्पादन भी शीघ्र विद्युत विभाग के  द्वारा नेट मीटरिंग होते ही चालू हो जाएगा।

स्मार्ट सिटी जयपु र परियोजना के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आलोक रंजन ने जानकारी देते हुए बताया कि 50 प्रतिशत राजस्व हिस्सेदारी पर शहर में विभिन्न स्थानों पर राजकीय कार्यालयों और सरकारी संस्थानों में 3100 किलोवाट के सोलर पैनल लगाए जाएंगे। अब तक 2030 किलोवाट के सोलर पैनल लगाए जा चुके है।

मुख्य कार्यकारी ने सोलर पैनल पर विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि अब तक राजस्थान विश्व विद्यालय,नगर निगम, चौगान स्टेडियम, महारानी कॉलेज, कॉमर्स कॉलेज, राजस्थान कॉलेज, पोद्दार कॉलेज, महाराज कॉलेज, महिला आईटीआई और पॉलीटेक्नीक कॉलेज, आरटीओ, खेल परिषद शूटिंग रेज में सोलर पेनल लग चुके है तथा अलग अलग नियंत्रित बिजली स्त्रोत कार्यक्रम के तहत 11 केवी/433 ट्रांसफॉर्मर और सम्बन्धित नियन्त्रण पैनल जो कि चौगान स्टेडियम, चांदपोल अनाज मंडी बहुमंजिला कार पार्किंग, डब्ल्यूटीपी वाणिज्यिक कियोस्क पर स्थापित होगे जबकि नगर निगम परिसर में नियंत्रण पेनल केन्द्र स्थापित हो चुका है।

श्री रंजन ने बताया कि वर्तमान में लगाए गए सोलर पैनलों से विद्युत बचत एवं प्रदूषण मुक्त विद्युत उत्पादक उपकरणों के उपयोग एवं 50 प्रतिशत राजस्व हिस्सेदारी से राजकीय कार्यालयों और सरकारी संस्थानों में एक और जहां बिजली बचत हो सकेगी, वही वायु प्रदूषण के क्षेत्र में उपलब्धी भी बनी रहेगी तथा रख रखाव पर भी अन्य विद्युत उत्पादक उपकरणों के मुकाबले खर्च बहुत ही कम आएगा।